खूनी बवासीर 10 दिन में सदा के लिए खत्म-सिद्ध कायकल्प भस्म
ID: 2330

ID: 1791

  सिद्ध  कायाकल्प भस्म

     खूनी बवासीर और मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव 100%कारगर

गर्भाशय की सूजन और पीड़ा में रामबाण। नकसीर में100% कारगर

सेवन- विधि=कप डेढ़ कप छाछ या दही के साथ सिद्ध कायाकल्प भस्म तीन ग्राम खाली पेट दिन में तीन बार सिर्फ एक ही दिन लेनी है।

पेचिश पाचन तंत्र का रोग है जिसमें गंभीर अतिसार (डायरिया) की शिकायत होती है और मल में रक्त एवं म्यूकस आता है में कायाकल्प भस्म कारगर है।

मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव और खूनी बवासीर में रामबाण

   *प्रकार के रक्तस्राव को रोकने में कारगर यह योग**नारियल की जटा से करे खूनी बवासीर मासिक धर्म में अधिक रक्तस्रावका एक दिन में भी इलाज हो सकता है।*

 कैसे बनाए कायाकल्प भस्म

       3 किलोग्राम नारियल की जटा

       300 ग्राम आवला चुर्ण

       100 ग्राम कोंचबीज काला

          50  छोटी इलाची

● नारियल की जटा लीजिए। ● उसे माचिस से जला दीजिए। ● इस मे सभी और सामग्री डाल कर जला दे।● जलकर भस्म बन जाएगी।● इस भस्म को शीशी में भर कर ऱख लीजिए।

● कप डेढ़ कप छाछ या दही के साथ सिद्ध कायाकल्प भस्म तीन ग्राम खाली पेट दिन में तीन बार सिर्फ एक ही दिन लेनी है।

ध्यान रहे दही या छाछ ताजी हो खट्टी न हो।

● कैसी और कितनी ही पुरानी पाइल्स की बीमारी क्यों न हो, एक दिन में ही ठीक हो जाती है।

■ यह नुस्खा किसी भी प्रकार के रक्तस्राव को रोकने में कारगर है।

■ महिलाओं के मासिक धर्म में अधिक रक्तस्राव या श्वेत प्रदर की बीमारी में भी कारगर है।

■ हैजा, वमन या हिचकी रोग में यह भस्म एक घूँट पानी के साथ लेनी चाहिए।

परहेज़

■ दवा लेने के एक घंटा पहले और एक घंटा बाद तक कुछ न खाएं तो बहुत अच्छा रहेगा।

■ अगर रोग ज्यादा जीर्ण हो और एक दिन दवा लेने से लाभ न हो तो दो या तीन दिन लेकर देखिए।

*हम आपके लिए कोने कोने से कुदरत के अनसुने चमत्कारिक नुस्खे ले कर आते हैं, आप इनको आजमायें और फायदा होने पर ज़्यादा से ज़्यादा लोगो तक पहुंचाए।*

*●विशेष सावधानियां●*

       खूनी बवासीर के लिए

1. बवासीर से बचने के लिए गुदा को गर्म पानी से न धोएं। खासकर जब तेज गर्मियों के मौसम में छत की टंकियों व नलों से बहुत गर्म पानी आता है तब गुदा को उस गर्म पानी से धोने से बचना चाहिए।

2. एक बार बवासीर ठीक हो जाने के बाद बदपरहेजी (जैसे अत्यधिक मिर्च-मसाले, गरिष्ठ और उत्तेजक पदार्थो का सेवन) के कारण उसके दुबारा होने की संभावना रहती है। अत: बवासीर के रोगी के लिए बदपरहेजी से बचना परम आवश्यक है।

Online मंगवाए सिद्ध कायाकल्प  भस्म

     Whats 78890 53063

ID: 2300

Add Comment