ID: 2330

चना और गुड़  किसी दवा से कम नहीं है। चने खाने से एक नहीं कई फायदे मिलते हैं

ID: 2300

👍👍👍

सुबह खाली पेट भीगे चने और गुड़ खाने से जड़ से खत्म हो जाएंगे ये 70 रोग, बादाम से भी है ज्यादा फायदेमंद।

💐💐💐

कैसे करे सेवन-रात को 100 ग्राम चना ताजे पानी में भिगोकर रख ले, सुबह उठ कर भीगे चनों को 2 से 3 बार ठंडे पानी निकालकर साफ कर ले। फिर जीरा ,काली मिर्च और नमक को भूनकर चनों को फ्राई करें। इस से इसका स्वाद बढ़ जाएगा और खाने आसान और स्वाद लगेगा ।

👌👌👌

स्वाद से धीरे धीरे चबाकर खाएं और साथ में 10 ग्राम से 20 ग्राम देशी गुड़ खाएं। ऊपर गर्म पानी पीएं।

यह शरीर को बहुत ही स्फूर्तिवान और शक्तिशाली बनाता है।

⬇️ चने और गुड़ खाने फायदे और गुण⬇️

चना और गुड़ शरीर को बीमारियों से लड़ने में सक्षम बनाता है। साथ ही यह दिमाग को तेज और चेहरे को सुंदर बनाता है।

👌👌👌

चना और गुड़ शरीर में ताकत लाने वाला और भोजन में रुचि पैदा करने वाला होता

उबले हुए चने और गुड़ कोमल, रुचिकारक, पित्त, शुक्रनाशक, शीतल, कषैले, वातकारक, ग्राही, हल्के, कफ तथा पित्त नाशक होते हैं।

चना और गुड़ शरीर को चुस्त-दुरुस्त करता है। खून में जोश पैदा करता है।

यकृत (जिगर) और प्लीहा के लिए लाभकारी होता है। तबियत को नर्म करता है। खून को साफ करता है। धातु को बढ़ाता है।

आवाज को साफ करता है। रक्त सम्बन्धी बीमारियों और वादी में लाभदायक होता है। इसके सेवन से पेशाब खुलकर आता है।

👍👍👍👍

वजन कम करना : अगर आपको अपना वजन कम करना है तो रोज़ाना सुबह उठकर खाली पेट भीगे हुए चने और गुड़ खाने से आपका वजन जल्द ही कम होने लगेगा।

💐💐💐

कब्ज और पेट दर्द : रातभर भिगे हुए चनों से पानी को अलग कर उसमें अदरक, जीरा और नमक को मिक्स कर खाने से कब्ज और पेट दर्द से राहत मिलती है।

👌👌👌

शरीर की गंदगी साफ करना : काला चना शरीर के अंदर की गंदगी को अच्छे से साफ करता है। जिससे डायबिटीज, एनीमिया आदि की परेशानियां दूर होती हैं। और यह बुखार आदि में भी राहत देता है।

💐💐💐

पीलिया के रोग में : पीलिया की बीमारी में चने की 100 ग्राम दाल में दो गिलास पानी डालकर अच्छे से चनों को कुछ घंटों के लिए भिगो लें और दाल से पानी को अलग कर लें अब उस दाल में 100 ग्राम गुड़ मिलाकर 4 से 5 दिन तक रोगी को देते रहें। पीलिया से लाभ जरूरी मिलेगा। पीलिया रोग में रोगी को चने की दाल का सेवन करना चाहिए।
मुंह का सौंदर्य : चना के बेसन में नमक मिलाकर अच्छी तरह गौन्दकर लेप बना लें। इस लेप को चेहरे पर मलने से त्वचा में झुर्रियां नहीं आती हैं और चेहरा सुन्दर रहता है।

👍👍👍

आयुर्वेद में चने की दाल और चने को शरीर के लिए स्वास्थवर्धक बताया गया है। चने के सेवने से कई रोग ठीक हो जाते हैं। क्योंकि इसमें प्रोटीन, नमी, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम और विटामिन्स पाये जाते हैं।

👍👍👍

गुण में कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन, पोटैशियम, जिंक, प्रोटीन, विटामिन बी पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. गुड़ शरीर के मेटाबॉल्जिम (Metabolism) को दुरुस्त रखने में मदद करने में भी फायदेमंद माना जाता है. आयुर्वेद के अनुसार, रोजाना खाली पेट गुड़ खाकर एक गिलास गर्म पानी पीने से पेट में

गैस (Gas),

एसिडिटी (Acidity),

पेट दर्द (Stomach Pain),

कब्ज (Constipation)

से राहत मिल सकती है. इतना ही नहीं यह बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन (Blood Circulation) बेहतर बनाने में भी मदद कर सकता है

👍👍👍

और जानकारी के whats 94178 62263 या 78890 53063 पर संपर्क करे।

💐💐💐

सिद्ध शीतल चुर्ण-शरीर की हर गर्मी को करे शांत

💐💐💐

सिद्ध नारी पीरियड कल्पचुर्ण

💐💐💐

ID: 1788

सफ़ेद पानी (लकोरिया ) की दवा★

ID: 1825

Add Comment