सिद्ध हड्डी गैप नाशक कल्पचूर्ण
ID: 2330

कैलिशयम औऱ हड्डियों की कमजोरी के लिए
चुर्ण:सुधा कल्प वटी औऱ शिलाजीत कैप्सुल

ID: 1791

सिद्ध हड्डी गैप नाशक योग

कैलिशयम औऱ हड्डियों की कमजोरी के लिए
चुर्ण:सुधा कल्प वटी औऱ शिलाजीत कैप्सुल

ऊर्जा के साथ: चुस्ती और फुर्ती योग
दर्दों और कमजोरी करे दूर

सेवन विधि:
  1 चम्मच चुर्ण
  2 वटी सुधा कल्प
  1 कैप्सुल शिलाजीत

सुबह शाम खाने से 30 मिनटों बाद गर्म पानी से सेवन कर 200 ग्राम गर्म दूध पिएँ।

  

⬇️

यह योग विटामिन d और विटामिन b12 की कमी की कारगर दवा।।घुटनों गैप, रीढ की हड्डी गैप(spin) और शरीर  की किसी हड्डी को जोड़ने और गैप को भरने में कारगर है।

☑️ घुटनों और रीढ़ के मनकों के गैप में  कारगर

☑️ लिंगमेंट की समस्या में कारगर

☑️ खून की सप्लाई कम हो तो यह दवा ले

⬇️?⬇️

   सिद्ध हड्डी गैप नाशक कल्पचुर्ण घटक

   कीकर फली औऱ शिलाजीत युक्त

गठिया व जोड़ों के दर्द के अलावा हड्डियों के गैप और अन्य बीमारियां कीकर फली और शिलाजीत युक्त । घुटनों और रीढ़ के मनकों के गैप में  कारगर

एक बार जरूर इस्तेमाल करे।

आज हम आपको इस बबूल (कीकर) की फली और शिलाजीत से दवा का एक ऐसा प्रयोग बताने जा रहें हैं जिससे अगर आपके घुटनों में दर्द है या इसको बदलने की भी नौबत आ चुकी है.

तो एक बार घुटनों को बदलवाने की बजाये इस प्रयोग को ज़रूर करें. 

एक आयु के बाद शरीर के जोड़ों में लुब्रीकेन्टस एवं केल्शियम बनना कम हो जातां है. 

जिससे कारण जोडो का दर्द, गैप, केल्शियम की कमी, वगैरा प्रोब्लेम्स सामने आती है,

जिसके चलते आधुनिक चिकित्सा आपको जोइन्ट रिप्लेस करने की सलाह देते है. तो यह प्रयोग आपको ऐसी नौबत से बचा सकता है.

           

 सिद्ध हड्डी गैप नाशक कल्पचुर्ण घटक

 बाबुल की फली     250 ग्राम

 बाबुल गोंद            100ग्राम

 हरसिंगार फूल       250 ग्राम

 मेथी दाना (भुना)   100 ग्राम

अजवाइन               100 ग्राम

हल्दी                     100 ग्राम

गिलोय चुर्ण            100 ग्राम

चरायता                  100 ग्राम

सतावर चुर्ण            250 ग्राम

दालचीनी                100 ग्राम

काली जीरी             100 ग्राम

शिलाजीत              100 ग्राम

गिलोय रस औऱ एलोवेरा रस में भावना देकर सायं में सुखाएं।

ID: 1814

⬇️?⬇️

साथ मे यह करे -:

दवा के साथ यह जरूर करे  दिन 2 बार

3 लीटर पानी में 200 ग्राम नमक 200 ग्राम सरसों का तेल डालकर गरम कर लें। फिर उस पानी में कपड़ा भिगोकर लगभग 10 मिनट तक नित्य सेंकाई करें।

Whats and call 94178 62263

Email-sidhayurveda1@gmail.com

https://ayurvedasidh.blogspot.com/2018/01/blog-post_7.html
ID: 1825

Add Comment